ईश्वर की दया

मैंने भगवान से माँगी ' शक्ति ' 
मुझे मिली कठिनाइयाँ, हिम्मत बढ़ाने के लिए
मैंने भगवान से माँगी ' बुद्धि '
मुझे मिली उलझनें, सुलझाने के लिए
मैंने भगवान से माँगी ' समृद्धि '
मुझे मिली समझ, काम करने के लिए
मैंने भगवान से माँगा ' प्रेम '
मुझे मिले दुःखी लोग, मदद करने के लिए
मैंने भगवान से माँगा ' साहस '
मुझे मिले कष्ट, उबर पाने के लिए
मैंने भगवान से माँगा ' वरदान '
मुझे मिले अवसर, कोशिश करने के लिए
मैंने भगवान से माँगा ' धैर्य '
मुझे मिली संतुष्टि, शांत रहने के लिए । 

" वो मुझे नहीं मिला जो मैंने माँगा था,
मुझे वो मिला जो मुझे चाहिए था "

ईश्वर हर दिन व्यक्ति की इच्छा पूरी करता है
गलतियों की सजा और अच्छाई का पुरस्कार देता है ; यही ईश्वर की  दया है । 




This Poem is written by my sister " Ruchika Mourya "
Previous
Next Post »

8 comments

Write comments
31 July 2017 at 06:19 delete

आपकी लिखी रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" मंगलवार 01 अगस्त 2017 को लिंक की गई है.................. http://halchalwith5links.blogspot.com पर आप भी आइएगा....धन्यवाद!

Reply
avatar
Ritika Mourya
AUTHOR
31 July 2017 at 07:53 delete

अवश्य ! धन्यवाद !

Reply
avatar
sweta sinha
AUTHOR
31 July 2017 at 18:36 delete

बहुत सुंदर रचना 👌

Reply
avatar
Sudha Devrani
AUTHOR
1 August 2017 at 00:33 delete

बहुत सुन्दर सीख देती रचना...

Reply
avatar
iBlogger
AUTHOR
1 August 2017 at 02:25 delete

यदि आप कहानियां भी लिख रहें है तो आप प्राची डिजिटल पब्लिकेशन द्वारा जल्द ही प्रकाशित होने वाली ई-बुक "पंखुड़ियाँ" (24 लेखक और 24 कहानियाँ) के लिए आमंत्रित है। यह ई-बुक अन्तराष्ट्रीय व राष्ट्रीय दोनों प्लेटफार्म पर ऑनलाईन बिक्री के लिए उपलब्ध कराई जायेगी। इस ई-बुक में आप लेखक की भूमिका के अतिरिक्त इस ई-बुक की आय के हिस्सेदार भी रहेंगे। हमें अपनी अप्रकाशित एवं मौलिक कहानी ई-मेल prachidigital5@gmail.com पर 31 अगस्त तक भेज सकतीं है। नियमों एवं पूरी जानकारी के लिए https://goo.gl/ZnmRkM पर विजिट करें।

Reply
avatar
Ritika Mourya
AUTHOR
2 August 2017 at 04:25 delete

धन्यवाद !

Reply
avatar
Ritika Mourya
AUTHOR
2 August 2017 at 04:26 delete

धन्यवाद !

Reply
avatar
Ritika Mourya
AUTHOR
2 August 2017 at 04:32 delete

आपके आमंत्रण के लिए धन्यवाद !

Reply
avatar